flag hoisting meaning in hindi-hoisted meaning in hindi

flag hoisting meaning in hindi

दोस्तों आज हम अपने देश के एक महत्वपूर्ण टॉपिक के मीनिंग के बारे में जानेंगे जिसे हम 15 अगस्त और 26 जनवरी को ज्यादातर प्रयोग करते है यह भारत के हर गली , हर स्कूल और लाल किले में प्रधान मंत्री द्वारा भी इसका उपयोग होता है ।

उम्मीद है अभी तक आपको इसके बारे में समझ आ गया होगा लेकिन अभी भी आप अश्मंजस में है तो घबराये नहीं मैं इसके बारे में पुरे विस्तार से बताऊंगा ।

साथ में मैं आपको इससे जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें भी बतानेवाला हूँ साथ में  26 जनवरी और 15 अगस्त में यह वर्ड क्यों अलग – अलग प्रयोग होता है इसके बारे में भी आपको यह आर्टिकल पूरा पढ़ने के बाद पता चल जायेगा । यह एक तरह से बहुत महत्वपूर्ण भी होजाता है की देश से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातें सभी को पता होना चाहिए ।

meaning of flag hoisting in hindi तथा इसका मतलब ध्वज आरोहण  होता है अथार्त झंडा फहराना । अब उम्मीद है आपको समझ आ गया होगा और यह सबसे ज्यादा 26 जनवरी और 15 अगस्त के दिन भारत के हर नागरिक द्वारा झंडा फहराया जाता है क्योंकि यह तिरंगा झंडा हमारा आन , बान और शान है ।

झंडा फहराना 

लेकिन क्या आपको पता है  की  15 अगस्त और 26 जनवरी का झंडा फहराने में क्या अंतर है और हो सकता है की आप यह सवाल पहली बार सुन रहे होंगे । तो चलिए आज हम इसके मुख्या 3 अंतर के बारे में जानेंगे जो दोनों के झंडा फहराने के मायने को अलग बताते है

flag hoisting ceremony meaning in hindi

सबसे पहले इसके मायने का बारे माँ बात कर लेते है फिर मेन विषय में चर्चा करेंगे flag hoisting ceremony का मतलब झंडा फहराने का उत्सव  होता है और भारत में इस 15 अगस्त और 26 जनवरी के दिन मनाया जाता है

ध्वज आरोहण  का असली मतलब 

असल में भारत में झंडा एक साल में दो बार फहराया जाता है लेकिन दोनों बार के मतलब अलगे होते है क्योंकि 15 अगस्त यानि स्वतंत्रता दिवस वाले दिन को जो झंडा हम फहराते है वो ध्वज आरोहण  के नाम से जाना जाता है जिसमे हम ध्वज को बांध कर ऊपर की तरफ खींचते है और फिर फहराया जाता है इसे हम ध्वजारोहण  कहते है

वही दूसरी तरफ 26 जनवरी यानी की गणतंत्र दिवस के दिन हमारा राष्ट्रिय ध्वज ऊपर ही बंधा रहता है केवल उसे खोलकर फहराया जाता है उसे हम झंडा फहराना कहते है और हमारे भारत देश में अंग्रेजी में ध्वजारोहण के लिए जो सबद इस्तेमाल होता है उसे Flag Hoisting और झंडा फहराने के लिए जो सब्द इस्तेमाल करते है Flag Unfurling कहते है

प्रधान मंत्री और राष्ट्रपति की भूमिका 

15 अगस्त को जो कार्यक्रम आयोजन किया जाता है उसमे मुख्य रूप से देश के प्रधान मंत्री शामिल होते है और ध्वज आरोहण के कार्यक्रम को पूरा करने के लिए प्रधान मंत्री के ही दायित्व होता है । लेकिन 26 जनवरी के दिन ,भारत में आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम में राष्ट्रपति झंडा फहराते हैं।

स्थान का अंतर – ( hoist flag meaning in hindi )

15 अगस्त के दिन जो आयोजन किया जाता है वह लाल किले पर होता है और द्देष झंडा के प्रधान मंत्री ध्वजारोहण का कार्यक्रम को सफलता पूर्वक पूरा करते है । प्रधान मंत्री इस दिन लालकिले के प्राचीर से देश को संबोधित करते हैं । 

वही गणतंत्र दिवस में आयोजन का स्थान राजपथ है और इस कार्यक्रम में झंडा फहराने का काम राष्ट्रपति मंडल करता है ।

राष्ट्रपति 26 जनवरी को झंडा क्यों फहराते है 

हमारे भारत में प्रधान मंत्री को राजनीतिक प्रमुख का दर्जा दिया गया है जबकि  राष्ट्रपति संवैधानिक प्रमुख होते है । हम सभी जानते है की देश का संविधान 26 जनवरी, साल 1950 को संविधान लागू हुआ था और साथ में इसके पहले न देश में संविधान था और न राष्ट्रपति ही मौजूद होते थे । इसलिए आजादी के बाद हर 26 जनवरी को राष्ट्रपति ही राष्ट्रीय ध्वज को फहराते हैं।

उम्मीद है आपको देश से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी अब तक पढ़ लिया होगा जो सभी के लिए बहुत महत्व रखता है और यह सभी जानकारी सभी भारतीय को पता भी रहना चाहिए ।

निष्कर्ष 

आपको मेरा यह आर्टिकल flag hoisting meaning कैसा लगा हमे कमेंट में अपनी राय बता सकते है और इस लेख में मैंने बहुत ही बढिये तरीके से विस्तारपूर्वक hoist flag meaning in hindi के बारे में बताया है जिसे समझना बेहद आसान है और भी इस तरह की जानकारी पाने के लिए अपने सवाल को हमसे पूछ सकते है जिसका उत्तर जल्द देने का प्रयाश किया जायेगा धन्यवाद ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.