average true range in hindi- average true range kya hai

average true range in hindi

AVERAGE TRUE RANGE को  दूसरे  शब्दों  में  यदि  हम  कहें  तो  इसे  STOP LOSS   INDICATOR    भी  कहा  जाता  है । क्योंकि  ये  एक  तरह  से  STOP LOSS प्राइस  को  भी  निर्धारित  करने  में  सक्षम  है

एवरेज  ट्रू  रेंज एक  वोलैटिलिटी  इंडिकेटर के  तरह  भी  काम  करता है क्योंकि  मार्किट  में  जितने  भी  एसेट्स  फोल्लोव्स  होते  है  इसको  ये  हर  टाइम  फ्रेम  में  एक  एवरेज  निकाल  कर देता  है  इसलिए  इसको  AVERAGE TRUE RANGE कहते  है .

AVERAGE TRUE RANGE को अब हम पुरे विस्तार से समझेंगे और क्या यह STOP LOSS  की तरह भी काम करता है की नहीं। जितने भी नए INVESTER  है उनकी हमेशा यही परेशानी है की जब भी वो कोई SHARE MARKET से STOCK BUY करते हैं लेकिन STOP LOSS कहाँ रखें इसका जानकारी नहीं होने के कारण उनका STOP LOSS  बार -बार  हिट ही जाता हैं और वो कभी स्टॉक को SELL ही नहीं कर पाते।

इसको  अब TECHNICAL CHART  में कैसे लगाए जिससे हम अपने STOP LOSS के लिए ज्यादा मेहनत न करना पड़े और हमे एक ऐसा प्राइस भी मिल जाए AVERAGE TRUE RANGE की मदद से जिसे हम अपने STOP LOSS  की तरह इस्तेमाल करे तथा बार बार हिट भी ना हो।

इसे समझने के लिए हमे एक और इंडिकेटर चाहिए जिसका नाम MACD है इसकी मदद से हम कोई स्टॉक को खरीदेंगे। स्टॉक का चयन हमे NSE के WEBSITE पे LISTED NIFTY 50 या NIFTY BANK में से चुनेंगे क्योंकि इसमें लिस्टेड सारे स्टॉक बढ़िया QUALITY और FUNDAMENTALLY STRONG होते है जो बढ़िया PERFORM करते है उन्ही को यहाँ रखा जाता है नहीं तो निकाल दिया जाता है।

indicator average true range

INDICATOR :-

 > MACD :- ऊपर INDICATOR SECTION में JAKAR हम MACD को SELECTKARENGE ISME कोई   बदलाव नहीं होगा

AVERAGE TRUE RANGE:- ऊपर INDICATOR  SECTION में JAKAR हम ATR  TYPE करेंगे तो ये   BHI दिख जायेगा और  इसे भी सेलेक्ट कर लेंगे।

> TIME :- जैसा की AVERAGE TRUE RANGE हर TIME FRAME में काम करने सक्षम है इसके लिए कोई सा भी TIME PERIOD ले सकते हैं। मैं EXAMPLE के लिए  ONE DAY का TIME FRAME को चुना  हूँ।

BUY POSITION :-

TECHNICAL CHART पर ये दोनों इंडिकेटर लगाने के बाद हम NSE के WEBSITE से सारे स्टॉक को इस CHART पर लगाकर बारी -बारी से चेक करेंगे जिस STOCK में भी हमे MACD से निचे से ऊपर के तरफ क्रासिंग दिखेगा हम उस स्टॉक का चुनाव BUY करने के लिए करेंगे।

STOP LOSS :-

अब हम सबसे IMPORTANT TOPIC पर बात करेंगे  इसके बाद AVERAGE TRUE RANGE इंडिकेटर के पास जायेंगे और उसका VALUE का पता करेंगे। जैसा की निचे फोटो पर दिखाया गया है।

MACD  CROSS करने के बाद स्टॉक का PRICE था 1313 RUPAY इसी प्राइस पर मैंने को BUY कर लिया और जिस CANDLE पर मैंने BUY किया उसका LOW 1295 है AVERAGE TRUE RANGE का VALUE  (43 ) तो हम LOW PRICE(1295 ) को 43 से घटा देंगे मेरा FINAL PRICE 1253 आएगा यही मेरा STOP LOSS होगा। अब आप सोच रहे होंगे की जिस कैंडल पर BUY किया उसके बाद वाला CANDLE तो RED है STOP LOSS हिट हो गया पर ऐसा नहीं है क्योंकि उस RED CANDLE का VALUE 1277 है जो की मेरे स्टॉप लोस्स  22 RUPAY ऊपर है।

SELL POSITION :-

हर दिन जैसे ही नया CANDLE  बनेगा वैसे ही मेरा भी STOP LOSS  CHANGE होता चला जायेगा  जैसा  मैंने बताया है SAME वही प्रक्रिया हम बार -बार दोहरायेंगे। आपको एक जानकारी के लिए बता दू की आप  में  हैं की एक बड़ा RED CANDLE बना वही पर मेरा STOP LOSS हिट हो गया और मेरा SELL PRICE 1350 RUPAY था मुझे इस TRADE में जो फायदा हुआ 37 रूपए का था। इस प्रकार हम बड़े आसानी से AVERAGE TRUE RANGE को लगाकर अच्छा PROFIT कमा सकते हैं।
what is average true range in hindi ( average true range in hindi)
स्टॉक की सीमा किसी भी दिन उच्च और निम्न कीमतों के बीच का अंतर है। यह इस बात की जानकारी बताता है कि स्टॉक कितना अस्थिर है। बड़ी श्रेणियां उच्च अस्थिरता का संकेत देती हैं और छोटी पर्वतमाला कम अस्थिरता का संकेत देती हैं। सीमा को विकल्पों और वस्तुओं (उच्च माइनस कम) के लिए उसी तरह मापा जाता है जैसे वे स्टॉक के लिए होते हैं।
स्टॉक और कमोडिटी मार्केट के बीच एक अंतर यह है कि प्रमुख वायदा एक्सचेंज उस राशि पर सीलिंग लगाकर बेहद अनियमित मूल्य चाल को रोकने का प्रयास करते हैं, जो एक ही दिन में बाजार में आ सकता है। यह एक लॉक लिमिट के रूप में जाना जाता है और एक दिन के लिए कमोडिटी की कीमत में अधिकतम बदलाव का प्रतिनिधित्व करता है। 1970 के दशक के दौरान, मुद्रास्फीति अभूतपूर्व स्तर, अनाज, सूअर का मांस और अन्य वस्तुओं तक पहुंच गई, जो अक्सर अनुभवी सीमाएं होती हैं।

Leave a comment